ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
होमसमाचारविश्व कप समाचारतीन बार के वर्ल्ड कप चैंपियन pele का हुआ निधन

तीन बार के वर्ल्ड कप चैंपियन pele का हुआ निधन

तीन बार के वर्ल्ड कप चैंपियन pele का हुआ निधन

तीन बार के वर्ल्ड कप चैंपियन pele का हुआ निधन, Pele फुटबॉल जगत के वो महान खिलाडी जिन्होंने ब्राज़ील को तीन बार वर्ल्ड कप चैंपियन बनाया। उन्होंने अपनी आखरी सांस साओ पाउलो के अल्बर्ट आइंस्टीन अस्पताल मे ली, वे कैंसर कि इस लडाई मे परास्त हो गए। पर उनकी लेगसी युगो युगो तक याद रखी जाएगी। वे खेल के मुख्य अंग तब बने जब उन्होंने 17 साल कि उमर मे ब्राज़ील के लिए वर्ल्ड कप जीता था। उस वर्ल्ड कप के फाइनल मे स्वीडन के खिलाफ उन्होंने 2 गोल किए थेथे, जहाँ उन्होंने ब्राज़ील और अपने लिए पेहला कप जीता था।

Pele फुटबॉल इतिहास का एक सबसे बड़ा नाम

Pele ने अपने जीवन कि शुरुआत बहुत ही संगर्ष से शुरू किया था।  बचपन से उन्होंने गरीबी देखी, कही दिनों वे भुके भी सोया करते थे। परिवार कि स्तिथि भी बहुत नाज़ुक थी। तभी उन्होंने पास के फुटबॉल क्लब मे उन्होंने खेलना शुरू किया, वे इस खेल को जल्दी पकड़ गए और लोग उनकी स्किल्स से बहुत ही प्रभावित हुए इस तरह से शुरू हुआ था pele का फुटबॉल सफर। जो सफर उन्होंने अपनी भुक मिटाने के लिए शुरू किया था, उन्हे नही पता था कि उन्हे वो एक महानता कि तरफ ले जाएगा।

Pele ब्राज़ील के आल टाइम जोइंट् स्कोरर है जिन्होंने 92 मैचेस् मे 77 गोल किए है। अपने आखरी ट्वीट मे लिखा “प्रेरणा और प्रेम ने राजा pele की यात्रा को चिह्नित किया, जिनका आज शांतिपूर्वक निधन हो गया। प्यार, प्यार और प्यार, हमेशा के लिए। pele कि बेटी केली नैसिमेंटो बार बार मीडिया को अपने पिता के अप्डेट दिया करती थी। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट मे लिखा कि “हम जो भी है, हमे जो भी मिला आपके कारण मिला आपका बहुत बहुत धन्यवाद पापा”

पढ़े : Celtic ने जीता अपना लगातार बारवा मुकाबला

Pele का जन्म एडसन अरांतेस डो नैसिमेंटो मे हुआ उन्होंने ब्राज़ील के लिए 3 बार वर्ल्ड कप जीते जो 1958,1962, और 1970। 1962 के वर्ल्ड कप मे वे ज्यादा तर चोटिल नज़र आए पर फिर भी उन्होंने टीम के लिए जो हुआ वो उन्होंने किया और उसके अगले वर्ल्ड कप मे उन्होंने अपना कमाल दिखाया और प्लाएर् ऑफ दी टूर्नामेंट भी बने।

Pele ने 14 वर्ल्ड कप मैचों में 12 गोल किए और 10 सहायता भी प्रदान की प्रतियोगिता के इतिहास में किसी भी खिलाड़ी द्वारा सबसे अधिक, और एक अनुस्मारक कि वह एक गोलस्कोरर से कहीं अधिक थे। जिन्होंने फुटबॉल इतिहास मे अपना एक अलग नाम बनाया।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://footballskynews.com/
मैं फुटबॉल का प्रशंसक हूं और फुटबॉल के बारे में लिखना पसंद करता हूं। मैंने अपनी पसंदीदा टीमों पर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा है,

संबंधित फुटबॉल न्यूज़

नवीनतम फुटबॉल न्यूज़