ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
होमसमाचारविश्व कप समाचारजेनी हर्मोसो वर्ल्ड कप जीत के बाद मेक्सिको पहुँची

जेनी हर्मोसो वर्ल्ड कप जीत के बाद मेक्सिको पहुँची

जेनी हर्मोसो वर्ल्ड कप जीत के बाद मेक्सिको पहुँची

जेनी हर्मोसो वर्ल्ड कप जीत के बाद मेक्सिको पहुँची, जेनी हर्मोसो के साथ जो हुआ वो सायद बयान करना बहुत ही मुश्किल है, कहाँ वर्ल्ड कप की जीत के जशन मे उन्हे मग्न होना चाहिए था, लेकिन अंतिम समारोह मे जो उनके साथ हुआ वो बहुत बड़ा चर्चा का विषय बन गया। जीत समारोह मे जब जेनी हर्मोसो को स्पेन अध्यक्ष लुइस रुबियल्स ने होंठों पर चुम लिया जो बहुत बड़ी चर्चा का विषय बन गया, अब स्पेन की जीत से ज्यादा जेनी हर्मोसो और लुइस रुबियल्स के किस की चर्चा ज्यादा होने लगी।

जेनी हर्मोसो ने दर्ज की कानूनी शिकायत

जब ये मामला ज्यादा जोर पकड़ने लगा स्पेन के सारे राष्ट्रीय अध्यक्ष, विपक्ष, स्पेन की महिला टीम ने एक साथ लुइस रुबियल्स के उपर निशाना साधा, उन्हे अपने पद को त्यागने का भी दबाव दिया गया लेकिन रुबियल्स अपनी पदवी छोड़ने को तयार नही दिख रहे है, यहाँ तक टीम के मेनेजर को को भी स्पेन एफ ए ने निकाल दिया है अपने अध्यक्ष की कार्य को सही टेहराने के लिए। अहम बात है कि एक खिलाडी से पहले एक महिला की सम्मान को ठेस पहुँचाया गया है।

जेनी हर्मोसो ने भी अब चुप नही बैठने की ठान ली है और अपनी तरफ से कानूनी शिकायत की है। शिकायत के साथ, गंभीर कदाचार के लिए स्पेन की शीर्ष खेल अदालत द्वारा चल रही जांच और फीफा द्वारा जांच के अलावा, रुबियल्स को आपराधिक आरोपों का सामना करना पड़ सकता है, जिसने उन्हें अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है।हर्मोसो ने कहा कि वह चूमा जाना नहीं चाहती थी, और वह असुरक्षित और आक्रामकता का शिकार महसूस करती थी। हर्मोसो ने यह भी कहा कि घटना के तुरंत बाद उन पर और उनके परिवार पर रुबियल्स के लिए समर्थन दिखाने के लिए महासंघ द्वारा दबाव डाला गया था।

पढ़े : फ्रांस ने यूरो कप क्वालीफायर मे आयरलैंड को दी पटकनी

हर्मोसो पहुँची मेक्सिको

हर्मोसो वर्ल्ड कप के जीत के बाद मेक्सिको रवाना हो हो चुकी है जहाँ वो अपने क्लब पचुका के साथ लीग वन खेल मे वापस जुड़ रही है। उनकी वर्ल्ड कप की जीत पर उन्हे गरम जोशी से स्वागत किया गया।उन्होंने फाइनल के बाद से मीडिया में आमने-सामने बयान नहीं दिया है और कम से कम अभी के लिए वह मेक्सिको में अपनी स्थिति बरकरार रखेंगी। इस पर क्लब ने  भी अपने खिलाडी के सुरक्षा का पुरा ध्यान रखा है।

पचुका क्लब के प्रवर्ता का कहना है कि हमारी खिलाड़ी मीडिया के सामने नहीं आएगी, क्योंकि उसका ध्यान अपनी गतिविधियों को फिर से शुरू करने और अपने दैनिक जीवन में सामान्य स्थिति में लौटने पर 100 प्रतिशत केंद्रित होगा। हम आपकी समझ और सम्मान की सराहना करते हैं।पचुका रविवार को एपर्टुरा टूर्नामेंट के 10वें राउंड में प्यूमास के खिलाफ खेलने जा रही हैं। यह अनिश्चित है कि हर्मोसो ये मुकाबला खेलेगी या नही।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://footballskynews.com/
मैं फुटबॉल का प्रशंसक हूं और फुटबॉल के बारे में लिखना पसंद करता हूं। मैंने अपनी पसंदीदा टीमों पर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा है,

संबंधित फुटबॉल न्यूज़

नवीनतम फुटबॉल न्यूज़