ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
होमसमाचारइंग्लिश प्रीमियर लीग न्यूज़यूनाइटेड को खरीदने के लिए अभी भी तयार है शेख जसीम

यूनाइटेड को खरीदने के लिए अभी भी तयार है शेख जसीम

यूनाइटेड को खरीदने के लिए अभी भी तयार है शेख जसीम

यूनाइटेड को खरीदने के लिए अभी भी तयार है शेख जसीम और सर जिम रैटक्लिफ, जिन कठिनाईयों से मैंचेस्टर यूनाइटेड जुज रही है, वे क्लब को बेचकर सारा हिसाब खत्म कर सकते है। लेकिन ग्लेज़ेर परिवार सात बिलियन से नीचे की राशि मे नही बेचना चाहते है। जिस तरह का यूनाइटेड का खेल है और रेकॉर्ड है कोई भी इस क्लब को खरीदने के लिए दो बार सोचेगा लेकिन ग्लेज़ेर्स अपने ज़िद्ध पर अडे है और इसी जिद्ध ने उनके शेर पर भी खासा असर डाल दिया था।

ग्लेज़ेर्स अपनी माँग मे अडे है।

ग्लेज़र्स ने पिछले साल नवंबर में एक रणनीतिक समीक्षा की घोषणा की थी जिसके बारे में उन्होंने कहा था कि इससे बिक्री हो सकती है। युनाइटेड के मुख्य कार्यकारी रिचर्ड अर्नोल्ड ने सोमवार को एक स्टाफ मीटिंग में पुष्टि की कि प्रक्रिया जारी है। युनाइटेड को खरीदने में दोनों बोलीदाताओं की दिलचस्पी सीज़न में युनाइटेड की निराशाजनक शुरुआत और मैदान से बाहर की समस्याओं से प्रभावित नहीं हुई है।

युनाइटेड ने इस सीज़न में अपने शुरुआती पांच प्रीमियर लीग मैचों में से तीन हार गए हैं। मेसन ग्रीनवुड को गेटाफे मे लोन पर भेजा गया है, एंटनी को हमले के आरोपों को संबोधित करने के लिए समय दिया गया है और सोशल मीडिया पोस्ट में एरिक टेन हाग की आलोचना करने के लिए माफी मांगने से इनकार करने के बाद जादोन सांचो पहली टीम से दूर प्रशिक्षण ले रहे हैं।यूनाइटेड ने समर विंडो में £183 मिलियन खर्च किए लेकिन वे हैरी केन और डेक्लान राइस में टेन हैग के टॉप लक्ष्यों पर हस्ताक्षर करने में विफल रहे।

पढ़े : क्लूप ने कहा लिवरपूल यूरोपा लीग के लिए तयार है

अभी भी यूनाइटेड को खरीदने की मची है होड़

कतरी बैंकर शेख जसीम और ब्रिटिश उद्योगपति रैटक्लिफ ने अभी भी बोली लगाई है, जिसमें यूनाइटेड का मूल्य लगभग £5 बिलियन है, लेकिन ग्लेज़र्स उच्च प्रस्तावों की प्रतीक्षा कर रहे हैं।जितनी देर वे अधिक पैसे की मांग करते हैं, उतनी ही अधिक जिस संपत्ति को वे बेचने की कोशिश कर रहे हैं उसका मूल्य और भी नीचे गिरते जा रहा है।इस महीने की शुरुआत में यूनाइटेड के शेयर की कीमत में 18.2 प्रतिशत की गिरावट आई जब ग्लेज़र्स क्लब को बाज़ार से हटाने जा रहे थे।

2005 में क्लब का पूर्ण नियंत्रण संभालने के लिए लीवरेज्ड बायआउट पूरा करने के बाद से मैन यूडीटी के प्रशंसकों ने ग्लेज़र्स के स्वामित्व का विरोध किया है, परिवार के प्रति असंतोष अब सर्वकालिक उच्च स्तर पर है। लेकिन इतने समस्यो को रखकर भी वे क्लब को खरीदने की इच्छा रखते है।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://footballskynews.com/
मैं फुटबॉल का प्रशंसक हूं और फुटबॉल के बारे में लिखना पसंद करता हूं। मैंने अपनी पसंदीदा टीमों पर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा है,

संबंधित फुटबॉल न्यूज़

नवीनतम फुटबॉल न्यूज़