ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
होमसमाचारइंग्लिश प्रीमियर लीग न्यूज़नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट और सिटी भी फस रहे है मुश्किल के दायरे मे

नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट और सिटी भी फस रहे है मुश्किल के दायरे मे

नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट और सिटी भी फस रहे है मुश्किल के दायरे मे

नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट और सिटी भी फस रहे है मुश्किल के दायरे मे, नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट और मैनचेस्टर सिटी पर प्रीमियर लीग लाभप्रदता और स्थिरता नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है, दोनों क्लब अपील कर सकते हैं और जुर्माना से लेकर अंक कटौती तक कुछ भी हो सकता है। अब एक और टीम चेल्सी भी जांच के दायरे में है। अब चल रहे उलघन को देख सायद सभी टीम से पूछ- ताछ की जा सकती है।

प्रीमियर लीग ले रहा है कड़े निर्णय

आखिर प्रीमियर लीग ने कुछ दायरे रखे है, जिसमे टीमो को उस दायरे के अंदर ही खिलाडियों की खरीद और बेच का सारा फरमान पुरा करना है।लाभ और स्थिरता नियमों के उल्लंघन के लिए प्रीमियर लीग द्वारा सिटी और नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट के ख़िलाफ़ लगाए गए आरोपों के पीछे की प्रक्रिया और आगे क्या हो सकता है।प्रीमियर लीग ने एक बयान जारी किया और उसके शब्द बहुत दिलचस्प थे। इसकी शुरुआत यह कहकर होती है कि दो क्लबों, सिटी और नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट ने प्रीमियर लीग के वित्तीय नियमों को तोड़ने की बात स्वीकार की है।

वे बहुत जल्दी कार्रवाई करने जा रहे हैं क्योंकि ये नियम नए और सुव्यवस्थित हैं। यह सब एक फास्ट-ट्रैक प्रक्रिया का हिस्सा है क्योंकि प्रीमियर लीग यह सुनिश्चित करना चाहता है कि यदि कोई जुर्माना या कोई अंक कटौती है तो वे सीज़न में हैं।आयोग मामले की सुनवाई करेगा और यह एक से पांच दिनों के बीच चलेगा, लेकिन हमें 12 हफ़्तो के भीतर निर्णय लेना चाहिए। ये दोनो टीम के लिए अब बहुत बड़ी मुसीबत का समाह बनकर रह गया है। जहाँ उन्हे अपनी सफाई मे सही तत्य प्रधान करने होंगे।

पढ़े : एवर्टन को सहायता की काफी आवश्यकता है

क्लब्स ने दी अपनी तरफ से सफाई

ये दो बड़े क्लब्स के लिए बहुत बड़े झटके के समान ही है,उन्होंने अपने तरफ से कहा है, की उनके उपर आए इस वितिया परेशानियों को जल्द ही समाप्त करेंगे और प्रीमियर लीग के पक्षपात पर भी सवाल उठाए है। नॉटिंघम फॉरेस्ट मैनेजर नूनो एस्पिरिटो सैंटो ने मंगलवार को कहा कि क्लब में हम सभी चिंतित हैं लेकिन एक कोच के रूप में मेरा काम टीम को तैयार करना है, कल हमारा मैच है और हमारा ध्यान इसी पर है।

नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट सोच रहा होगा कि क्या उन्होंने इतना ग़लत किया है, क्या उन्हें अन्य टीमों पर अनुचित लाभ मिला है। उन्होंने खिलाड़ियों को बेचकर बहुत अधिक पैसा नहीं कमाया है, उन्हें उतना पैसा नहीं मिला है। नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट ने ब्रेनन जॉनसन को बेच दिया, लेकिन यह लेखांकन अवधि समाप्त होने के बाद था। इसलिए उनके पास आयोग को देने के लिए कुछ मजबूत तर्क भी होंगे और वे उम्मीद करेंगे कि यदि वे दोषी पाए गए, तो उन पर जुर्माना लगाया जाएगा, न कि अंकों में कटौती की जाएगी।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://footballskynews.com/
मैं फुटबॉल का प्रशंसक हूं और फुटबॉल के बारे में लिखना पसंद करता हूं। मैंने अपनी पसंदीदा टीमों पर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा है,

संबंधित फुटबॉल न्यूज़

नवीनतम फुटबॉल न्यूज़